पूरे विश्व में भारत पहले से अधिक शक्तिशाली बनकर उभरेगा: भागवत जी

स्रोत: न्यूज़ नेटवर्क      तारीख: 07-Oct-2017

वृन्दावन। पूरी दुनिया में भारत पहले से अधिक शक्तिशाली देश बनकर उभरेगा। इसमें कोई संशय नहीं, उसकी प्रक्रिया की हम अनुभूति कर रहे हैं लेकिन हम उसमें सहयोगी बन रहे हैं या नहीं, यह देखना है। ये 20, 25 साल ऐसे न निकल जाएं कि नाती, पोती को यह बताएं कि भारत ने जो गौरव प्राप्त किया, उसमें हम कुछ कर नही सके। यह बात शुक्रवार को वृंदावन में संत विजय कौशल महाराज के आश्रम निकुंज वन में आयोजित कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक प.पू. मोहन भागवत जी ने कही।  उन्होंने कहा कि सदियों से आक्रमण झेलकर भी हिन्दू समाज हिन्दू बनकर जी रहा है। वरना इतने कत्लेआम हुए चाहते तो सभी लोग धर्म बदल लेते, लेकिन यह संकल्प का प्रभाव है कि हिन्दू धर्म चल रहा है। कितने भी व्यवधान आएं अपना ध्यान नहीं बंटना चाहिए। भारत माता की जय एक मिनट का नहीं, प्रत्येक क्षण का विषय है। यह एक मिनट में होगा भी नहीं, इसके लिए अभ्यास करना होगा।

भागवत जी ने कहा कि भारत माता की जय यहां बोलने से ही जय नहीं होगी, उसके लिए आचरण करना होगा। उस पर योगी जी और रामदेव पर्याप्त बोल चुके हैं। हमें क्या करना है, यह सोचकर काम करना होगा। पहले दृढ़ और शुद्ध संकल्प जरूरी है। इस कार्यक्रम में आए हैं तो क्या सोचकर आए हैं, क्या लक्ष्य लेकर आए हैं, यह सोचना जरूरी है।