हिमाचल में मंत्रियों को बांटे गए विभाग, वित्त - गृह मुख्यमंत्री के पास

स्रोत: न्यूज़ नेटवर्क      तारीख: 29-Dec-2017

शिमला। हिमाचल सरकार के सभी मंत्रियों को लंबे इंतजार के बाद आखिरकार शुक्रवार को मंत्रालयों का बंटवारा कर दिया गया है।

सीएम जयराम ठाकुर ने वित्त, गृह, योजना, पर्यटन, लोकनिर्माण और कार्मिक विभाग अपने पास रखे हैं। सबसे वरिष्ठ मंत्री महेंद्र सिंह को सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य, बागवानी और सैनिक कल्याण मंत्रालयों की अहम जिम्मेदारी सौंपी गई है।

किशन कपूर को खाद आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले और चुनाव विभाग का प्रभार मिला है। सुरेश भारद्वाज को उनके अनुभव के आधार पर शिक्षा, कानून और संसदीय कार्य मंत्री की जिम्मेदारी सौंपी गई है। अनिल शर्मा को ऊर्जा मंत्रालय मिला है।

कैबिनेट की एकमात्र महिला सरवीण चौधरी को शहरी विकास और टाउन एन्ड कंट्री प्लानिंग का मंत्रालय सौंपा गया है। रामलाल मार्कण्डे को कृषि, जनजातीय विकास और सूचना एवं प्रौधोगिकी मन्त्रालय का जिम्मा सौंपा गया है। पहली बार मंत्री बने विपिन परमार को स्वास्थ्य, चिकित्सा शिक्षा, आयुर्वेद और साइंस व तकनीकी मंत्री बनाया गया है।

इसी तरह वीरेंद्र कंवर को पंचायती राज, पशुपालन और मत्स्य विभाग की जिमेदारी मिली है। विक्रम सिंह को उद्योग, श्रम एवं रोजगार और तकनीकी शिक्षा मंत्री बनाया गया है। गोविन्द सिंह को वन और परिवहन मंत्री का जिम्मा मिला है। राजीव सहजल को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय दिया गया है।
उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री समेत 11 मंत्रियों ने बीते बुधवार को शपथ ली थी। कैबिनेट मंत्रियों के विभागों पर पेंच फंसा हुआ था। कुछ मंत्री अहम विभाग हासिल करने की जुगत लड़ा रहे थे। आज सुबह मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर दिल्ली के लिये निकले। दिल्ली पहुंचने के कुछ देर बाद मंत्रियों को महकमे बांटने की घोषणा की गई।