गंगाघाट पर सुबह-ए-बनारस की छटा देखने को उमड़ रहे पर्यटक

स्रोत: न्यूज़ नेटवर्क      तारीख: 07-Dec-2017

वाराणसी। पश्चिमी विक्षोभ के चलते आ रही गर्म हवाओं से लगातार दूसरे दिन गुरूवार को भी ठंड और गलन का असर कम रहा। सुबह हल्के कोहरे के बावजूद ठंड अपेक्षाकृत कम रही। जैसे-जैसे दिन चढ़ता गया न्यूनतम और अधिकतम तापमान में बढ़ोत्तरी के कारण लोगों को गरमी महसूस होती रही। मौसम विभाग के अनुसार पूर्वांह 11 बजे शहर का अधिकतम तापमान 24 डिग्री और न्यूनतम तापमान 14 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया। अनुमान है कि शनिवार से मौसम में फिर बदलाव होगा। बादल छंटने के साथ ही ठंड और गलन तेज होगी।

बताते चले बीते बुधवार को भी दोपहर में अधिकतम तापमान 27 डिग्री और न्यूनतम तापमान 14 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जबकि मंगलवार को अधिकतम तापमान 25.4 डिग्री और न्यूनतम तापमान 8.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया था। 

बीएचयू के मौसम विज्ञानी प्रो. एसएन पांडेय ने बताया कि ओखी तूफान का असर पूर्वांचल में नहीं है। बल्कि पश्चिमी विक्षोभ के चलते वार्म फ्रंट वाराणसी सहित आसपास के जिलों में आसमान में बादल छाए रहेंगे। उधर सर्दी के जोर न पकड़ने के कारण गंगा तट पर सुबह-ए-बनारस की अनुपम छटा का आनन्द लेने के लिए पर्यटकों की भीड़ भी बढ़ रही है। वहीं स्थानीय नागरिक भी घाटों पर पहुंच कर सुबह-ए-बनारस की नैसर्गिक छटा देख निहाल हो रहे हैं।घाट पर दिन चढ़ने के बाद गुनगुनी धूप का मजा लेने वालों की भी भीड़ में लगातार इजाफा हो रहा है।