...जानें त्रिकोणासन करने की सही विधि

स्रोत: न्यूज़ नेटवर्क      तारीख: 16-Mar-2017

योग के हर आसन के अलग फायदे होते हैं। आज हम जिस आसन के बारे में बात करने जारहे हैं उस आसन को त्रिकोणासन के नाम से जाना जाता है। जैसा की नाम से ही पता चल रहा है कि इसमें शरीर की स्थिति त्रिकोण जैसी बन जाती है।

इस आसन को करने से कूल्हे और पैर बहुत मजबूत हो जाते हैं और शरीर पहले से ज्यादा फ्लेक्सिबल हो जाता है, छाती चौड़ी होती है और स्पाइन को भी काफी मजबूती मिलती है। आइये अब इस आसन को सही तरीके से करने की विधि को भी जान लेते हैं।

पहले सीधे खड़े हो जाइए और अपने दोनों पैर के बीच में दो से तीन फ़ीट की दुरी बनाये रखिये। दायें पैर को दायी ओर मोड़कर रखे और फिर अपने कंधो की ऊंचाई तक दोनों हाथों को बगल में फैलाए। अब सांस को अंदर खींचते हुए दायी ओर झुके और झुकते समय नजर सामने रखे। इसी पोजीशन में रहते हुए दायें हाथ से दायें पैर को टच करने की कोशिश करे। बायाँ हाथ सीधा आकाश की और रखे और नजर बायें हाथ की उंगलियों की और रखे। अब वापस सीधी अवस्था में लौटकर दूसरी और भी हाथ बदलकर यह अभ्यास करे।