ऐसे रखें अपने पैरों का ख्याल

स्रोत: न्यूज़ नेटवर्क      तारीख: 10-Jun-2017
हम अपने शरीर में सबसे ज्यादा अपने चेहरे का ख्याल रखते हैं। लेकिन हमारे पूरे शरीर का भार सहने वाले पैरो की भी देखभाल उतरी ही जरूरी है जितनी चेहरे की। पैरों को कोमल और सुंदर बनाने के लिए उनकी भी नियमित देखभाल करें। मौसम में बदलाव का असर आपके पैरों पर भी पड़ता है। पैर सुंदर बने रहें, इसके लिए खासतौर पर देखभाल की जरूरत होती है।
 
मौसम बदलने पर पैरों में अक्‍सर संक्रमण हो जाता है। इस तरह की समस्‍याओं से बचने के लिए आपको चेहरे के साथ ही पैरों की भी देखभाल करनी चाहिए।
बिजी लाइफ के बीच आपको पैरों की सफाई के लिए भी समय निकालना चाहिए। घर से बाहर पैर धूल और मिट्टी के संपर्क में आते हैं। इस कारण पैरों में संक्रमण का खतरा बना रहता है। संक्रमण से दूर रहने के लिए जरूरी है कि आप शाम को घर लौटने के बाद अपने पैरों की साबुन से सफाई करे।
पैरों की सफाई करते समय अंगुलियों के बीच के हिस्‍से की भी सफाई करनी चाहिए। कई बार देखा जाता है कि कुछ लोग एडी वाले भाग की सफाई तो करते हैं, लेकिन वे अंगुलियों के बीच जमी गंदगी को साफ नहीं करते।
 
पैरों में संक्रमण के प्रकार
1. पैरों के प्रति लापरवाही आपके पैरों में संक्रमण का कारण बन सकती हैं। पैरों का संक्रमण निम्‍नलिखित प्रकार का होता है।
2. रिंगवर्म पैरों में छल्‍लेदार आकार का होने वाला संक्रमण है। इसमें पैरों की त्‍वचा लाल और कठोर हो जाती है। साथ ही इसमें खुजली भी होती है। यह पैरों में फंगस के संक्रमण से होने वाली परेशानी है।
3. नाखूनों का संक्रमण बरसात के पानी में ज्‍यादा समय तक पैर रहने से होता है। नेल इन्‍फेक्‍शन की समस्‍या अधिकतर बरसात के मौसम में होती है। ऐसे में नाखून का लाल होना और नाखून पर सूजन आने के साथ ही खुजली भी होती है।
4. एक्जिमा में पैरों की त्‍वचा पपड़ीदार होकर उतरने लगती है, साथ ही यह बहुत कठोर हो जाती है। यह समस्‍या वैक्‍टीरिया के कारण होती है। इसमें पैरों में खुजली बनी रहती है। एक्जिमा की समस्‍या में लापरवाही नहीं करनी चाहिए और जल्‍द से जल्‍द डॉक्‍टर से संपर्क करना चाहिए।