देबारी काया बाईपास की तैयारी शुरू, राजमार्ग प्राधिकरण ने किया माॅडल जारी

स्रोत: न्यूज़ नेटवर्क      तारीख: 09-Sep-2017

उदयपुर। उदयपुर के देबारी चौराहे पर बन रहा सबसे बड़ा ग्रेटर चौराहा तीन पत्ती के फूल की तरह नजर आएगा। इस चौराहे को एनएचएआई द्वारा दो साल में पूरा करने का दावा किया जा रहा है। वहीं एनएचएआई ने 23.883 किलोमीटर लंबे ग्रेटर चौराहे से काया तक बनने वाले बाईपास का एक थ्रीडी व्यू भी जारी किया है, जो इस रोड की खूबसूरती बनने से पहले ही बयां कर रहा है।

गौरतलब है कि दिल्ली से मुंबई जाने वाले भारी वाहन वर्तमान में प्रतापनगर चौराहे से होकर गुजरते हैं। ऐसे में शहर के बीच में स्थित इस चौराहे पर भारी जाम रहता है। यातायात के इस दबाव को कम करने के लिए ही 780 करोड़ की लागत से देबारी काया बाईपास का काम शुरू हुआ है। एनएचएआई द्वारा जारी थ्रीडी व्यू में बताया गया हैं कि छह लेन के इस बाईपास रोड पर 12.5 किलोमीटर लंबी सर्विस रोड होगी, वहीं एक टोल प्लाजा, फ्लाई ओवर, आवेर पास, दो रेलवे ब्रिज, पांच मेजर ब्रिज, 10 छोटे ब्रिज और 12 अण्डर पास होंगे। बाईपास के पूरा होने के साथ ही देबारी के ग्रेटर चौराहे का भी अपना एक अनूठा स्वरूप होगा। इसमें दुनिया की बेहतरीन तकनीकों का इस्तेमाल कर इस कार्य को पूरा किया जाएगा।