हरदा कलेक्टर की खातिर पार्षदों व निगम अधिकारियों ने पलक-पांवड़े बिछाए

स्रोत: न्यूज़ नेटवर्क      तारीख: 12-Jan-2018

सर आप दोबारा आ जाइए, यहां आपकी बेहद जरूरत है

ग्वालियर विशेष प्रतिनिधि। छह-सात महीने पहले जब निगमायुक्त की कुर्सी पर आईएएस अनय द्विवेदी काबिज थे, उनके हरदा कलेक्टर  बनने और निगमायुक्त पद पर विनोद शर्मा की पुन: वापसी के बाद से हालात काफी विपरीत हैं। जिनके खिलाफ श्री द्विवेदी ने कार्यवाही की, वे पुरानी सीटों पर वापस आ चुके हैं।

लेकिन आज जब वे ग्वालियर प्रवास पर आए तो उनसे मिलने पार्षदों अधिकारियों का तांता लगा रहा, इनका कहना था, सर आप वापस आ जाइए, यहां आपकी बहुत जरूरत है। वहीं श्री द्विवेदी ने निगमायुक्त विनोद शर्मा के बंगले पर पहुंचकर उनसे सौजन्य भेंट की, जिसकी निगम गलियारों में बेहद चर्चा है। जानकारी के मुताबिक पूर्व निगमायुक्त श्री द्विवेदी के ग्वालियर आगमन की सूचना पीए अंकुर गुप्ता ने वाट्सएप ग्रुप पर पोस्ट डालकर दी। जिसमें उनके गुरूवार को दोपहर दो से चार बजे तक गौशाला में पहुंचने की बात थी।

श्री द्विवेदी होटल ऊषा किरण में रुके हैं और अधिकारियों एवं पार्षदों ने उनसे गौशाला व गांधी रोड विश्रांति ग्रह पर मुलाकात की। इनमें नेता प्रतिपक्ष कृष्णराव दीक्षित, ब्रजेश गुप्ता, जगदीश पटेल, जयसिंह सोलंकी, मेहताव सिंह, मनोज तोमर, भूपेन्द्र मोगनिया, उपायुक्त शैलेष अवस्थी, एपीएस भदौरिया,जागेश श्रीवास्तव, प्रेम पचौरी, प्रदीप चतुर्वेदी, मुकेश बंसल, बृजकिशोर त्यागी,मौ.ओवेश सिदÞदीकी, अतिवल सिंह यादव, प्रदीप वर्मा, सुभाष गुप्ता, अमित गुप्ता, राकेश कश्यप, सुरेन्द्र जैन, आशीष राजपूत, राजू गोयल, पुष्पेन्द्र श्रीवास्तव आदि प्रमुख हैं। इस बीच निगमायुक्त के आग्रह पर श्री द्विवेदी उनके सरकारी बंगले 14-अ गांधी रोड पर भी सौजन्य भेंट करने पहुंचे।

इनसे नहीं मिले

उनके समय जो अधिकारी टारगेट पर रहे और आज भी खटास बरकरार है, को दूर करने के लिए इन लोगों ने पीए के जरिए उनसे मुलाकात के प्रयास किए लेकिन श्री द्विवेदी ने ऐसे लोगों से मिलने से साफ इंकार कर दिया।