मुलायम यादव के इस सपने को अब पूरा करेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

स्रोत: न्यूज़ नेटवर्क      तारीख: 05-Jan-2018

लखनऊ ब्यूरो। मुख्यमंत्री रहते हुए मुलायम सिंह यादव ने सन् 2003-04 में वाराणसी के डोमरी गांव के विकास का जो सपना देखा था उस सपने को अब वाराणसी के सांसद और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूरा करने जा रहे हैं।
दरअसल प्रधानमंत्री आदर्श गांव के तहत नरेंद्र मोदी वाराणसी में अपने संसदीय क्षेत्र के चौथे गांव डोमरी को गोद लेने की तैयारी में हैं। इससे पहले प्रधानमंत्री वाराणसी के जयापुर, नागेपुर और ककरहिया गांव को गोद ले चुके हैं। हालांकि डोमरी गांव को गोद लेने का औपचारिक ऐलान अभी नहीं हुआ है, लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि जनवरी में होने वाले अपने संसदीय क्षेत्र के दौरे के दौरान प्रधानमंत्री इस गांव को गोद लेने का ऐलान कर देंगे। जिसके लिए इस गांव में तैयारियां भी जोर-शोर से शुरू हो गई है।

हमेशा से नेताओं की पसंद रहा है डोमरी

वैसे तो डोमरी गांव को बसे कई साल हो गए हैं लेकिन इस गांव के इतिहास की बात करें तो इस पर हमेशा से किसी ना किसी बड़े नेता की नजर रही है। दरअसल गांव में पटेलों की संख्या ज्यादा है। इसके अलावा बिहार की बड़ी आबादी इस गांव में बसती है।

हर साल बाढ़ में घिरा रहता है डोमरी

डोमरी गांव जहां पर हर साल गंगा में बाढ़ आने की वजह से लगभग 3 से 4 हजार लोगों को 10 से 15 दिन के लिए अपना घर द्वार छोड़ना पड़ता है। वजह इस गांव से गंगा की दूरी महज कुछ मीटर ही है और बाढ़ की स्थिति में यह गांव लगभग पानी में डूबा रहता है, जिसकी वजह से 500 से ज्यादा परिवार बाढ़ पीड़ित कैंपों में शरण लेने पर मजबूर हो जाते हैं।