भाजपा के शासन में मिल रहा दलित महापुरुषों को सम्मान : मत्री आर्य

स्रोत: न्यूज़ नेटवर्क      तारीख: 04-Feb-2018

छतरपुर। इस देश में आजादी के बाद कांग्रेस ने सालों राज किया है और प्रदेश में 43 साल सत्ता में रही। लेकिन उनके द्वारा न तो दलित समाज को आगे बढ़ाने के प्रयास किये गये और न ही दलित महापुरुषों को सम्मान दिया गया। लेकिन भाजपा एक ऐसी सरकार है जिसने सत्ता में आने के बाद दलित महापुरुषों को सम्मान दिया है और समाज को विकास की मुख्य धारा से जोडऩे के लिए लगातार काम कर रही है। मध्यप्रदेश शासन के मंत्री लाल सिंह आर्य संत रविदास जयंती के उपलब्ध में आयोजित महाकुंभ को सम्बोधित करते हुए बोल रहे थे। 

आर्य ने कहा कि आगामी सत्र में संत रविदास जी का जीवन चरित पाठ्यक्रम में शामिल किया जायेगा ताकि भावी भविष्य भी संत रविदास जी को जान सके। संत रविदास जयंती के उपलब्ध में आयोजित महाकुंभ में राज्यमंत्री ललिता यादव, पूर्व सांसद नारायण सिंह केसरी, मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष सूरज कैरो, प्रदेश प्रभारी व भाजपा के प्रदेश मंत्री बुद्ध सिंह पटेल, प्रदेश कार्यालय मंत्री रामस्वरूप सुकवारे, भाजपा जिलाध्यक्ष पुष्पेन्द्र प्रताप सिंह, नगर पालिका अध्यक्ष अर्चना गुड्डू सिंह, सिल्वर सिटी डायरेक्टर अशोक अहिरवार, किसान मोर्चा प्रदेश मंत्री अवनीन्द्र पटैरिया, पूर्व मंत्री रामदयाल अहिरवार मंचासीन रहे। 

कार्यक्रम का आगाज संत शिरोमणि रविदास जी की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर किया गया। तत्पश्चात अतिथियों का फूल मालाओं से स्वागत कर अपने स्वागत भाषण में सभी का हृदय से धन्यवाद करते हुए कार्यक्रम के आयोजक दिलीप अहिरवार ने कहा कि संत रविदास जैसे महापुरुष कहा महाकुंभ कर मेरा जीवन धन्य हो गया। इस अवसर पर हम सबको संकल्प लेना होगा कि संत रविदास जी और डॉ. भीमराव अम्बेडकर के बताये मार्ग पर चलें। भाजपा अनुसूचित जाति के प्रदेश अध्यक्ष सूरज कैरों ने कहा कि पहली बार संत रविदास जी का महाकुंभ आयोजित हुआ है जिसे देखकर मैं बहुत प्रसन्न हूं और आयोजक दिलीप अहिरवार को धन्यवाद देता हूं। बुद्ध सिंह ने अपने उद्बोधन में कहा कि संविधान निर्माता बाबा साहेब और संत रविदास जी के मार्ग पर चलने का आव्हान किया है। वहीं नारायण सिंह केसरी ने कहा कि समाज में असामाजिकता फैलाने वालों को किसी भी सूरत में माफ नहीं किया जायेगा। 

भाजपा जिलाध्यक्ष पुष्पेन्द्र प्रताप सिंह ने अपने उद्बोधन में कहा कि इस तरह के आयोजन से समाज जहां एक ओर विकास की मुख्य धारा से जुड़ेगा वहीं एकता भी बढ़ेगी। इसके अलावा श्री सिंह ने मंच से संत रविदास जी का चौराहा बनाए जाने की घोषणा की। मंच का सफल संचालन वंशगोपाल वर्मा, नीरज वर्मा व महेन्द्र अहिरवार ने किया। अंत में आभार मोर्चा जिला महामंत्री राजेन्द्र अहिरवार ने जताया। महाकुंभ के इस कार्यक्रम में सुरेश गुंदारा, मनोज निवारी, राजेश मनकारी, रामकिशोर पिपरी, विनोद भारती खजुराहो, बाबूराम, दीनदयाल, मनोज, संतोष राज, कालीचरण अहिरवार का विशेष सहयोग रहा।