मेक इन इंडिया से भारतीय फौज के स्वावलंबन की ओर बढ़ेंगे कदम

स्रोत: न्यूज़ नेटवर्क      तारीख: 05-Feb-2018


भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद नंदकुमार सिंह चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मेक इन इंडिया की कीर्ति देश की सीमा को पार कर चुकी है। इससे प्रत्यक्षत: दो फायदे देश को मिले हैं। प्रौद्योगिकी सांझेदारी के साथ भारत में आयात हुई है, जिससे मेक इन इंडिया के तहत रक्षा उत्पादन का स्वदेशीकरण हो रहा है।

यहां जारी एक बयान में भाजपा नेता ने कहा कि अमेरिकी वायुसेना प्रमुख ने भारत में बने लड़ाकू विमान तेजस को जब आकाश में उड़ाया तो उसके करतब देखकर यूएस एयर फोर्स चीफ डेबिड गोल्ड फीन बेहद प्रभावित हुए और शानदार उत्पादन के लिए भारतीय वैज्ञानिकों की भूरि-भूरि प्रशंसा की। उन्होंने मेक इन इंडिया के लिए बधाई दी।

उन्होंने कहा कि भारत में मेक इन इंडिया मिशन के तहत जल सेना, वायु सेना और थल सेना के उपकरण हेलीकाप्टर, वायुयान, मरीन का निर्माण किया जा रहा है जिससे आने वाले दिनों में भारतीय फौज स्वावलंबन की ओर कदम बढ़ेंगे। भारत व्यावसायिक आधार पर उत्पादन में सक्षम होगा। इससे रक्षा सामग्री के आयात का बिल कम होगा विदेशी मुद्रा की बचत होगी।

चौहान के कहा कि तेजस लड़ाकू विमान से भारत की मारक क्षमता में वृद्धि हुई है। यह एयर टू एयर और एयर टू सरफेस मिसाइल दागने में सक्षम है। संकरे रन वे से उड़ान भरने में सक्षम है। तेजस ने देश को रक्षा कवच दिया है जिसकी विदेशी लड़ाकों और रक्षा विश्लेषकों ने मुक्त कंठ से प्रशंसा की है।