इंडिगो और गो एयर विमानों के खराब इंजनों को लेकर सरकार चिंतित

स्रोत: न्यूज़ नेटवर्क      तारीख: 13-Mar-2018

नई दिल्ली। नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने इंडिगो और गो एयर एयरलाइंस के 11 ए 320 विमानों की उड़ान पर रोक लगा दी है। अब सरकार ने भी इन एयरलाइंस द्वारा विमानों में खराब इंजनों के इस्तेमाल को लेकर चिंता जताई है। मंगलवार को नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा ने कहा, 'लोगों की सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है। इन इंजनों की तकनीकी जांच करवाई जा रही है। सरकार इन इंजनों को दोषपूर्ण मानते हुए इन्हें असुरक्षित मान रही है।' 

उल्लेखनीय है कि उड़ान के दौरान इन इंजनों के फेल होने की कुछ घटनाएं सामने आने के बाद डीजीसीए ने इंडिगो और गो एयर से इन इंजनों वाले विमानों को न उड़ाने के आदेश दिए हैं। डीजीसीए ने खास सीरीज के प्रैट एण्ड व्हिटनी इंजन (पीडब्ल्यू 1100) वाले 11 ए-320 नियो विमानों की उड़ानों पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी। इन इंजनों में उड़ान के दौरान फेल होने की कुछ घटनाएं सामने आई हैं। इन 11 विमानों में से 8 का संचालन इंडिगो और 3 का संचालन गो-एयर करती है। डीजीसीए के इस फैसले के चलते इंडिगो ने मंगलवार को अपनी 47 उड़ानें रद्द कर दी हैं। इससे यात्रियों को बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।
जयंत सिन्हा ने कहा, 'विमानों के पीडब्ल्यू 1100 इंजन दोषपूर्ण हैं। दुनिया में ऐसे सिर्फ 43 इंजन ही इस्तेमाल हो रहे हैं, जिनमें से 19 भारत में हैं। ये सभी इंजन भारत में यात्री हवाई सुविधा देने वाली एयरलाइंस इंडिगो और गो एयर इस्तेमाल कर रही हैं, लेकिन सरकार जब तक इन इंजनों को तकनीकी जांच में सुरक्षित घोषित नहीं कर देती तब तक इनका इस्तेमाल नहीं किया जा सकता।'