जीवन मंत्र

मकर संक्रांति पर्व की पौराणिक मान्यताएं नहीं जानते होंगे आप, जानें ये रोचक फैक्ट

मकर संक्रांति 2018 में दो दिन मनाया जाएगा। कोई 14 जनवरी तो कोई 15 जनवरी को पूजा-अर्चना कर दान पुण्य करेगा। पर क्या आप जानते हैं कि मकर संक्रांति पर्व सूर्य संस्कृति में ब्रह्मा, विष्णु, महेश, गणेश, आद्यशक्ति और सूर्य की आराधना एवं उपासना का पावन व्रत है..

रविवार को भूलकर भी न करें ये काम

पीपल एकमात्र पवित्र देववृक्ष है जिसमें सभी देवताओं के साथ ही पितरों का भी वास रहता है। शास्त्रों के अनुसार पीपल के मूल में ब्रह्मा..

घर में न रखें ये चीजें, करना पड़ सकता है विपरित परिस्थितियों का सामना

पुराने या कटे-फटे कपड़े घर में नकारात्मक उर्जा का संचार करते हैं। इसलिए ऐसे कपड़ों को या तो फिर आप दान कर दें या फिर किसी काम ले आएं।..

सर्वार्थ सिद्धि योग में मनेगी संक्रांति, शुभ कार्य 4 फरवरी से होंगे

मकर संक्रांति इस बार सर्वार्थ सिद्धि योग में मनाई जाएगी। 14 जनवरी को महापर्व मनेगा। इस दिन दोपहर 11.47 बजे सूर्य का प्रवेश मकर राशि में होगा। ज्योतिषियों के अनुसार प्रदोष व्रत होने से इस दिन भगवान शिव व सूर्य की उपासना श्रेष्ठ फलकारी रहेगी। इस बार संक्र..

आध्यात्मिक माहौल से करें नए साल का स्वागत, भोजपुर है बेस्ट ऑप्शन

भोपाल। अगर आप भी चाहते हैं कि नव वर्ष का स्वागत भगवान के आशीर्वाद से करें। या फिर अध्यात्म की दुनिया में कदम रखकर आध्यात्मिक माहौल में नए साल का पहला दिन बिताना चाहते हैं ताकि सालभर सकून भरा बना रहे, तो हम आपको बता रहे हैं भोपाल और उसके आसपास के कुछ ऐसे ह..

वर्ष 2018 : तीन सूर्य और दो खग्रास चंद्र सहित पड़ेंगे पांच ग्रहण

इंदौर। वर्ष 2018 में इस बार तीन सूर्य और दो चंद्र सहित पांच ग्रहण होंगे। तीनों सूर्य ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देंगे। इसके साथ ही हिंदू पंचाग के मुताबिक अंग्रेजी साल में 13 महीने होंगे। ऐसा इसलिए होगा की तीन साल में एक बार आने वाला पुरुषोत्तम मास के आने स..

बच्चों को व्यापार से जोड़े तो माँ- बाप के साथ रहेंगे

आदमी अकेला ही आया है, अकेला ही जावेगा, उसके साथ कुछ भी नहीं जायेगा। यदि यह बात खबके समझ में आ जाए तो सभी के जीवन से तनाव खत्म हो जावेगा तथा जीवन में शांति हो जावेगी।  यह बात आचार्य ज्ञान सागर ने चंद्रप्रभु मंदिर सोनागिर में प्रवचन के दौरान कही। श्..

आपके जीवन में बहुत समस्याएँ है तो करें ये उपाय

स्वदेश वेब डेस्क। जीवन में बहुत समस्याएँ आती रहती हैं, मिटती नहीं हैं। कभी कोई कष्ट, कभी कोई समस्या| तो ऐसे लोग शिवपुराण में बताया हुआ एक प्रयोग कर सकते हैं कि, कृष्ण पक्ष की चतुर्थी (मतलब पूर्णिमा के बाद की चतुर्थी ) आती है | उस दिन सुबह छः मंत्र बोलते..

घर में सुख-शांति के लिए करें ये उपाय

स्वदेश वेब डेस्क। घर में सुख-शांति नहीं रहती हो और हमेशा वाद-विवाद होते रहते हैं। तो शनिवार को किसी पीपल के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाएं और उसमें काले उड़द के तीन दाने डाल दें। यह उपाय हर शनिवार करें तो घर में वाद-विवाद कम हो सकते हैं। ज्योतिषाचार्य..

जन्म कुंडली की खामियों को दूर करने के लिए ये उपाय

स्वदेश वेब डेस्क। अगर आपकी कुंडली में ग्रहदोष है तो आपके जीवन में बहुत सारी समस्याओ का सामना करना पड़ता है, ज्योतिषाचार्य पंडित सतीश सोनी ने बताया कि कुंडली में ग्रहदोष होने से भाग्य का साथ नहीं मिल पाता है। और हमारे ज्योतिषशास्त्र में कुछ ऐसे उपाय ..

इनकम को लेकर परेशान है तो करें ये उपाय

स्वदेश वेब डेस्क। अगर आप धन संबंधी, स्वास्थ्य संबंधी या घर-परिवार से संबंधित परेशानियों से त्रस्त हैं तो यहां काले तिल के कुछ उपाय बताए जा रहे हैं। इन उपायों को करने से कुंडली के ग्रह दोष दूर होते हैं। और शनि की साढ़ेसाती, ढय्या, राहु-केतु के दोष, कालसर..

ये उपाय करने से घर में जल्द बजेगी शादी की शहनाई

स्वदेश वेब डेस्क। शादी की उम्र है और कई कारणों की वजह से शादी नहीं हो पा रही है तो हो सकता है कि आप वास्तुदोष के साए में हों। अगर इस दोष का हल कर दिया जाए तो आपकी जल्द ही शादी हो जाएगी। बस आपको अपने में घर में कुछ बदलाव करने की जरूरत है। तो आप कुछ उपाय अप..

कर्ज से मुक्ति के लिए करें ये विशेष उपाय

स्वदेश वेब डेस्क। हर महिने में शिवरात्रि (मासिक शिवरात्रि - कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी) को आती है | तो उस दिन जिसके घर में आर्थिक कष्ट रहते हैं वह शाम के समय या संध्या के समय जप-प्रार्थना करें एवं शिवमंदिर में दीप-दान करें । ज्योतिषाचार्य पंडित सतीश सोनी के ..

घर में न रखें ये चीजें

स्वदेश वेब डेस्क। किसी भी व्यक्ति के लिए उसका घर बहुत मायने रखता है। वास्तुशास्त्र अनुसार, घर में क्या रखना चाहिए और क्या नहीं, यह जानना बहुत जरूरी होता है। कई बार एक छोटी सी वस्तु से ही व्यक्ति का भाग्य रुका रह जाता है या उसे कई तरह की विपत्तियों का सामन..

शनिवार को पीपल की जड़ में जल चढ़ाने से होंगी ये कामनायें पूरी

स्वदेश वेब डेस्क। गीता में भगवान श्रीकृष्ण ने कहा है वृक्षों में मैं पीपल हूँ, इस बात का अनुभव पीपल के वृक्ष के सानिध्य में जा कर उसमें स्थित सकारात्मक ऊर्जा ग्रहण कर विचारों  में आये परिवर्तन को महसूस कर समझा जा सकता है।  पीपल वृक्ष न सिर्फ पर्..

कालभैरव को प्रसन्न करने के लिए करें ये उपाय

स्वदेश वेब डेस्क। कालभैरव कृष्ण पक्ष की अष्टमी का पर्व है। मान्यता है कि इसी दिन भगवान शिव ने कालभैरव का अवतार लिया था। इसलिए इस पर्व को कालभैरव जयंती के रूप में मनाया जाता है। इस बार ये पर्व 10 नवंबर,शुक्रवार को है। बता दें कि भगवान कालभैरव को तंत्र का द..

जीवन में धन की कमी न आने के लिए करें ये उपाय

स्वदेश वेब डेस्क। जीवन में धन एक महत्वपूर्ण वस्तु है। जो आपके जीवन को आसान बनाकर और आपकी समस्याओं के निराकरण में सहयोग करता है। इसके विपरीत यदि आपके पास धन नहीं है या फिर धन की कमी है तो यह अपने आप में एक बड़ी कारण बन जाता है। कभी कभी ऐसा होता है कड़ी मे..

पूर्णिमा के दिन ऐसा करने से होते है शिवजी प्रसन्न

स्वदेश वेब डेस्क। कार्तिक मास की पूर्णिमा हैं। धर्म ग्रंथों के अनुसार,इसी दिन भगवान शिव ने असुरों के तीन नगर(त्रिपुर)का नाश किया था। इसलिए इसे त्रिपुरारी पूर्णिमा भी कहते हैं। चूंकि त्रिपुरारी पूर्णिमा भगवान शिव से संबंधित है।ज्योतिषाचार्य पंडित सतीश सोनी..

देव उठनी एकादशी की पूजा के लिए यह है शुभ मुहूर्त

स्वदेश वेब डेस्क। दीपावली के बाद देव हरि विष्णु 31 अक्टूबर (मंगलवार) कार्तिक शुक्ल पक्ष देव प्रबोधिनी एकादशी को अमृत योग एवं त्रिपुष्कर योग में अपनी योग निंद्रा से जागेंगे। और श्री हरि इस दिन को देव उठनी एकादशी या देव दीपावली भी कहा जाता है।इस दिन की खास ..

गोपाष्टमी पर ऐसे करें पूजा

ग्वालियर। कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि 28 अक्टूबर शनिवार को सर्वार्थ सिद्धि योग में गोेपाष्टमी का पर्व मनाया जाएगा। इस पर्व पर गाय और गोविन्द की पूजा होगी। ज्योतिषाचार्य पं. सतीश सोनी के अनुसार इस दिन गाय और गोविन्द की पूजा करने से सुख, सौभाग्..

दान, व्रत और पूजन से मिलेगा अक्षय फल

-मनोकामना पूर्ति योग से मनाई जाएगी आंवला नवमीग्वालियर। कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की नवमीं तिथि को आंवला  नवमीं के नाम से जाना जाता है। आंवला नवमीं का यह पर्व रविवार 29 अक्टूबर को मनाया जाने वाला है। ज्योतिषाचार्य पं. सतीश सोनी के अनुसार इस बार अक्षय ..

नहाय खाए की परंपरा से शुरू हुआ छठ पर्व

ग्वालियर। भगवान सूर्य की उपासना का छठ पूजा पर्व मंगलवार को नहाए-खाए की परंपरा के साथ शुरू हो गया। रवियोग से शुरू हो रहा छठ पूजा का पर्व ग्वालियर शहर में भोजपुरियों द्वारा धूमधाम से मनाया जा रहा है। छठ पूजा का यह पर्व चार दिन तक चलेगा। ज्योतिषाचार्य पं. सत..

भगवान के वचन परम औषधि के समान

-आचार्य विनम्र सागर ससंघ का पिच्छी परिवर्तन समारोह आजग्वालियर। जिनेन्द्र भगवान के वचनों का अभ्यास करना चाहिए क्योंकि जिनेन्द्र भगवान के वचन परमात्मा के ध्यान के कारण हैं। बिना ज्ञान के परमात्मा का ध्यान संभव नहीं है, इसलिए सदैव जिनेन्द्र भगवान के वचनामृत ..

भाई और बहन के बीच के प्यार का विशेष त्योहार

स्वदेश वेब डेस्क। भाई दूज, भाई और बहन के बीच के प्यार का त्योहार है। यह त्योहार पूरे भारत में धूमधाम से मनाया जाता है। इस पंच पर्व महोत्सव दीवाली का पांचवां पर्व भैया दूज है जिसे यम द्वितीया भी कहा जाता है। यह भाई बहन के पवित्र प्रेम का प्रतीक है तथा दे..

गोवर्धन पूजा का है विशेष महत्व, पढ़िए पूरी खबर

स्वदेश वेब डेस्क। दीपावली के अगले दिन कार्तिक मास की शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा को गोवर्धन उत्सव मनाया जाता है। इस दिन मंदिरों में कई तरह के खाने-पीने के प्रसाद बनाकर भगवान को 56 भोग लगाए जाते हैं। इस दिन खरीफ की फसलों से प्राप्त अनाज के पकवान और सब्जियां ब..

माँ लक्ष्मी जी को करें ऐसे प्रशन्न

स्वदेश वेब डेस्क। दीपावली पर लक्ष्मी पूजन करने से पहले अपने घर आँगन को साफ सफाई करें और घर के पहले द्वार पर चावल का आटा और हल्दी का मिश्रण करके स्वस्तिक अथवा ॐ लगा देना, ताकि गृह दोष दूर होंगे जिससे लक्ष्मी की स्थिति हो। साथ ही दीपावली की रात मुख्य दरवा..

धनतेरस का महापर्व, जाने पूजा का शुभ महूर्त

-सजकर तैयार हुए शहर के बाजार, राशि के अनुसार करें खरीदारीग्वालियर। धनतेरस का महापर्व आज मंगलवार को मनाया जाने वाला है। धनतेरस के पर्व को लेकर शहर के सभी बाजार सजकर तैयार हो गए हैं और बाजारों में जमकर भीड़ हो रही है। स्थिति यह है कि बाजार में चलना तक मुश्कि..

अस्तित्व के आधार को नष्ट न करें

-राम कथा के अंतिम दिन मां कनकेश्वरी देवी ने कहाग्वालियर। भगवान की कथा का आधार भगवत चिंतन है, लेकिन आज मनुष्य अपने अस्तित्व के आधार को ही नष्ट कर रहा है। जल, नदी और वृक्षों को नष्ट किया जा रहा है। इस कारण प्रकृति का संतुलन बिगड़ रहा है। जीवन में सत्संग का आ..

27 वर्ष बाद दीपावली पर बन रहा है विशेष संयोग, पढ़िए पूरी खबर

ग्वालियर। इस बार 27 वर्ष बाद दीपावली विशेष संयोग में मनाई जाएगी। ज्योतिषाचार्य पं. सतीश सोनी के अनुसार दीपावली पर गुरू और चित्रा नक्षत्र का विशेष संयोग बन रहा है। ज्योतिषाचार्य के अनुसार कार्तिक कृष्णपक्ष अमावस्या को हस्त नक्षत्र सुबह सात बजकर पच्चीस मिनट..

धर्म में जीना सरल किन्तु अधर्म में जीना कठिन है

मनुष्य को सभी प्रकार से अभ्युदय होना चाहिए। मनुष्य का धर्म में जीना सरल है, लेकिन अधर्म में जीना अत्यंत ही कठिन है। धर्म के मार्ग पर चलने वाले कभी शिकायत नहीं करते। मीरा और पांडव इन लोगों ने धर्म के मार्ग पर चलते हुए आई कठिनाइयों की कभी भी भगवान से शिकायत नहीं की और उन कठिनाइयों को सहन किया।..

हमारी मानवता ही भारतीयता है

-रामलीला मैदान मुरार में श्रीराम कथा का पांचवां दिन ग्वालियर। जिसके मन में राम की भांति गुरु निष्ठा, मातृ-पितृ भक्ति और व्यापकता होती है वही धर्मात्मा कहलाता है। हमारा विचार, जीवन व स्वभाव राम ही है। हमारी मानवता ही भारतीयता है, व्यक्ति को अपनी संस्कृति प..

देवउठनी एकादशी के बाद भी नहीं बजेगी शहनाई

-गुरू और शुक्र के अस्त होने से शादियों में रहेगा अवरोधग्वालियर। इस वर्ष दीपावली के बाद आने वाली देव उठनी एकादशी के बाद भी मांगलिक कार्य शुरू नहीं हो सकेंगे। इतना ही नहीं गुरू व शुक्र अस्त होने के कारण शेष वर्ष में विवाह आदि मांगलिक कार्योंे के लिए लोगों क..

मन की पवित्रता पर ही राम की प्राप्ति संभव

भगवान के स्थान और नाम पर गलत कार्य करने से भगवान राम की प्राप्ति कभी नहीं हो सकती है। राम जीवन है, इसको बहुत ही सहज तरह से जीया जा सकता है। राम को जीने से हमें सुख की प्राप्ति होती है। राम को जीना ही मर्यादा को जीना है।..

जब राम का नाम मीठा लगने लगे, तभी होता है दुखों का अंत

जब हम भगवान श्रीराम की स्तुति करने लगेंगे, जब घर-घर में राम का स्मरण होने लगेगा तब हमें सुख रूपी पदार्थों की आवश्यकता नहीं होगी। राम के स्मरण से बुराई और ईर्ष्या अपने आप हमसे दूर हो जाएगी। राम का नाम मीठा लगने से हमारे दुखों का अंत होने लगता है। भजन भगवान के लाभ के लिए नहीं होता भजन हमारे स्वंय के लाभ के लिए होता है। ..

ग्रंथों का ज्ञान नहीं है तो वह ज्ञान अपूर्ण

ग्वालियर। आध्यात्मिक ज्ञान और ग्रंथ एक दूसरे के पूरक हैं। यदि ग्रंथों का ज्ञान नहीं है तो वह ज्ञान अपूर्ण है। श्रीरामचरित मानस एक आशीर्वादात्मक ग्रन्थ है,इसके पठन-पाठन से लौकिक एवं पारमार्थिक अनेक कार्य सिद्ध होते हैं। यह प्रवचन रविवार को मुरार के श्रीराम..

धन को अर्थ समझने वालों का जीवन ही व्यर्थ

श्रीराम कथा सभी वर्गों के कल्याण की बात कहती है। मानव मात्र, जीव मात्र का उद्धार करने वाली राम कथा है। राम कथा कई अर्थों से भरी है,लेकिन लोग केवल धन को ही अर्थ समझते हैं। धन को अर्थ समझने वालों का जीवन ही व्यर्थ हो जाता है। राम कथा में निश्चियात्मक ज्ञान ..

त्यौहारों का गुलदस्ता लेकर आएगा कार्तिक माह

-गंगा स्नान करने से सभी पाप होंगे नष्ट, कार्तिक माह शुरू, हर दिन लोक कल्याणकारीग्वालियर। हिंदू धर्म शास्त्रों में कार्तिक मास का विशेष महत्व है। इस मास का प्रत्येक दिन अपनी विशिष्टताओं को समेटे हुए है, जिससे इसे दिव्य कार्तिक माह भी कहते हैं, जो त्योहारों..

करवा चौथ की पूजा के लिए ये है सही समय, पढ़िए पूरी खबर

-आठ को पति की दीर्घायु के लिए व्रत रखेंगी सुहागिनें-रात्रि 8.26 बजे होगा चन्द्रोदयग्वालियर। शहर में सुहागिनों का पर्व ‘करवा चौथ’ की तैयारी शुरू हो गई है। इस बार करवा चौथ आठ अक्टूबर रविवार को मनाया जाएगा। इस दिन सुहागिन महिलाएं अपने पति की दीर्..

पंचमहायोग में होगा दीपावली पूजन

-खरीददारी के लिए भी बन रहे कई योग-दीपावली पर सौरमंडल में छाया रहेगा कालसर्प दोषग्वालियर। इस दीपावली पर पूजन पंचमहायोग में किया जाएगा। कार्तिक कृष्ण पक्ष की अमावस्या पर 19 अक्टूबर गुरूवार को महालक्ष्मी पूजन होगा। वहीं इस बार ज्योतिषियों के मुताबिक अक्टूबर ..

सोलह कलाओं से परिपूर्ण चांद करेगा अमृत वर्षा

-सर्वार्थ सिद्घि योग में पांच को मनेगी शरद पूर्णिमा-चांद की किरणों से औषधि बनेगी खीर, होगा रोगों का विनाशग्वालियर। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार शरद पूर्णिमा की रात चांद की रोशनी में खीर बनाकर रखने से वह औषधि का रूप ले लेती है, जिसे खाने से कई रोगों का विना..

रावण ने अंतिम समय में कौन सी तीन बात बताई, पढ़िए पूरी खबर

स्वदेश वेब डेस्क। जी हाँ, आपको बता दें कि आज तक दुनिया में रावण जैसा कोई विद्वान पैदा ही नहीं हुआ। वह एक बहुत बड़ा महापंडित था। जब रावण मृत्यु सैय्या पर था तो भगवान राम ने भाई लक्ष्मण से कहा कि जाओ उनके पास और उनसे शिक्षा ले लो। फिर लक्ष्‍मण रावण के पा..

सिद्धि समाप्त हो सकती है पर श्रद्धा नहीं

मीरजापुर। राष्ट्रीय संत मोरारी बापू मंगलवार को शारदीय नवरात्रि के छठवें दिन राम चरित मानस प्रसंगों की ब्याख्या करते हुए मानस श्रीदेवी माँ जगत जननी कात्यायनी के सौम्य रूप की चर्चा ब्यासपीठ को प्रणाम करते हुए की। बापू ने श्रीकृष्ण एवं राधा के जीवन पर प्रका..

समाज को एकता के सूत्र में बांधें

युवा संगठन हो, चाहे पुरुषों का संगठन हो, सभी संस्थाओं का कर्तव्य है कि आज समाज अलग-अलग हिस्सों में बिखरता जा रहा है, उसको आपस में मिलकार एकता के सूत्र में बाधें।..

भगवान विश्वकर्मा को करें ऐसे प्रसन्न

स्वदेश वेब डेस्क। आज विश्वकर्मा जयन्ती है और आज के दिन लोग भगवान विश्वकर्मा की मूर्ति स्थापित कर उनकी पूजा-अर्चना करते हैं। बताया जाता है कि विश्वकर्मा को दुनिया का सबसे पहला इंजीनियर और वास्तुकार माना जाता है। इसलिए इस दिन उद्योगों, फेक्ट्रियों और कार्..

गुरु की गंभीरता से सागर भी सिहर उठते हैं: विनिश्चय सागर

गुरु में गंभीरता इतनी होती है कि सागर भी सिहर उठे। वात्सल्य की छलकती गागर ऐसी होती है कि क्या मजाल कि कोई उनके आत्मीयता का अनुभव किए बिना उठ जाए।..

श्राद्ध पक्ष में करें इन चीजों का दान, मिलेगा लाभ

स्वदेश वेब डेस्क। पितृ पक्ष के दौरान सभी अपने पितरों को श्रद्धांजलि देते हैं। पितृ पक्ष हर साल अनंत चतुर्दर्शी के बाद आता है। हिन्दू धर्म में श्राद्ध पक्ष को बहुत महत्वपूर्ण माना गया है,ऐसा माना जाता है कि इस दौरान पितरों का श्राद्ध करने से उन्हें मोक्ष..

पित्तरों को करें इससे प्रसन्न

स्वदेश वेब डेस्क। आजकल श्राद्ध चल रहे है,इस दौरान लोग अपने पूर्वजो के नाम से पूजा और तरपान करते है। पितरों को प्रसन्न करने के लिए बहुत सारी चीजों का इस्तेमाल किया जाता है, पर आज हम आपको एक ऐसी चीज के बारे में बताने जा रहे है जिसके इस्तेमाल से आपके पूर्व..

इन तीन सिक्को से सम्रद्धि कैसे आएगी! जानिए... कौन से है वो सिक्के ?

फेंगशुई के अनुसार चीनी सिक्के घर में लगाने से धन संबंधी परेशानियां दूर होती है। कहा जाता है कि आने वाली सारी परेशानियां दूर हो जाती है। सिक्के मुख्य द्वार ..

कौए को क्यों खिलाया जाता है श्राद्ध पर भोजन

हिन्दू धर्म में पितृ श्राद्ध करना बेहद जरुरी होता है ऐसी मान्यता है की जो भी मनुष्य पितृ श्राद्ध नहीं करता है या विधिपूर्वक नहीं करता है उनके पितरो को शान्ति नहीं मिल पाती तथा उनकी आत्मा इस लोक में भटकती रहती है. श्राद्ध के दिन लोग अपने पितरो को 16 दिनों ..

इस समय सूर्य की पूजा करने से होती है आर्थिक उन्नति

सूर्य देव सभी ग्रहों के राजा हैं। इन्हें सूर्य नारायण भी कहा जाता है सूर्योपनिषद् में सूर्य को ब्रह्मा, विष्णु और रूद्र का स्वरूप माना गया है। माना जाता है ..

पिंड दान से मिलेगी पितरों को मुक्ति

रांची। इस साल पितृ पक्ष सात सितम्बर से शुरू हो रहा है, जो 20 सितम्बर तक चलेगा। आश्विन मास के कृष्ण पक्ष प्रतिपदा से महीने की अमावस्या तक के 15 दिनों को पितृपक्ष कहा जाता है। पितरों के लिए श्राद्ध करना एक महान कार्य है। माना जाता है कि मनुष्य पर देव ऋण, ..

जीवन में सफलता चाहिए तो रखें इन चीजों को घर में...

स्वदेश वेब डेस्क। जी हाँ, आपको बता दें कि आज जीवन में हर कोई सफलता की उम्मीद लगाये हुए रहता है और उसके लिए मेहनत भी करता है लेकिन न जाने कितनी ही मेहनत के बाद हमें सफलता नहीं मिलती और हम निराश हो जाते हैं। तो क्या आप भी जमाने भर की मेहनत करके निराश हो च..

गणपति बप्पा को ऐसे करें प्रसन्न

स्वदेश वेब डेस्क। भगवान गणेश के जन्म उत्सव को गणेश चतुर्थी के रूप में जाना जाता है। गणेश चतुर्थी पूरे देशभर में हर्षोउल्लास के साथ मनाया जाता है। किसी भी शुभ काम के पहले गणेश की पूजा की जाती है। भगवान गणेश को बुद्धि, समृद्धि और सौभाग्य के देवता के रूप म..

घर में इन वास्तुदोषों से बचे, होगा फायदा

स्वदेश वेब डेस्क। जी हाँ, हम आपको बता दें कि वास्तु प्राचीन विज्ञान है, जो हमें जीवन में कई चीजों की उपयोगिता के बारे में बताता है। रोजमर्रा के जीवन में कई छोटी-छोटी बातें जिन्हें हम नजरअंदाज कर देते हैं, वे हम पर बड़ा असर डाल सकती हैं। अगर घर में वास्तु ..

शनि के मार्गी होने से बदलेगी किस्मत

शनि का नाम सुनते ही सभी लोग भयभीत हो उठते हैं। शनि मनुष्य को उसके कर्मों का फल प्रदान करते हैं। इन फलों में मुनष्य को कभी-कभी दण्ड भी मिलता है। जब यह शनि मनुष्य को लाभ प्रदान करते हैं तो उसकी खुशी कई गुना बढ़ जाती है। न्यायाधिपति शनिदेव 25 अगस्त शुक्रवार को शाम पांच बजकर 19 मिनट पर वृश्चिक राशि में मार्गी हो रहे हैं। शनि के मार्गी होने से लगभग सभी राशियों को लाभ होगा।..

जैन समाज का 'पर्वराज पर्युषण' महापर्व होगा अगले सप्ताह से शुरू

स्वदेश वेब डेस्क। जैन धर्म के दिगंबर अनुयायियों का पर्वराज पर्युषण महापर्व 26 अगस्त से होने जा रहा है। जिसमें अनुयायी दस लक्षणों को अपनाकर सांसारिक सुखों से दूर रहने का संकल्प लेंगे। साथ ही पर्व की समाप्ति पर क्षमावाणी का आयोजन कर वे एक दूसरे से गल..

बेहतर जीवन जीने के लिए जरुरी है सशक्‍त चरित्र

  शुक्राचार्य चर्तुर नीतिकार थे। उन्होंने अपनी नितियों को लिपिबद्ध करके शुक्रनीति नाम के प्रसिद्ध नीतिग्रन्थ की रचनी करी। इस नीतिसार का जो व्यक्ति अनुसरण करता है, उसका जीवन बेहतर और चरित्र सशक्‍त बनता है। जो काम आज करना है उसे आज ही समाप्त कर ले..

... तो खुल जाएगी आपकी किस्मत

   पूजन में सामान्यतया घी या तेल का दीपक हम जलाते हैं। दीपक कैसा हो, उसमें कितनी बत्तियां हो, इसका भी एक विशेष महत्व है। उसमें जलने वाला तेल, घी किस-किस प्रकार का हो इसका भी विशेष महत्व है। यही महत्व उस देवता की कृपा और अपने उद्देश्य की पूर्त..

भगवान कृष्ण को जन्मष्टमी के त्यौहार पर करें प्रसन्न, होगा लाभ

स्वदेश वेब डेस्क। जी हाँ, हिन्दू संस्कृति में जन्माष्टमी का त्यौहार बड़ी धूम धाम से मनाया जाता है। जैसे कृष्ण जन्मष्टमी का त्यौहार नजदीक आता जाता है। वैसे वैसे लोगो के मन में हर्षोल्लास बढ़ता जाता है। लोग घरो की साफ-सफाई व मंदिरों में पूजा पाठ की तैयारिया श..

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी इस दिन मनाई जाएगी...

स्वदेश वेब डेस्क। जी हाँ, भगवान कृष्ण के जन्मोत्सव को लेकर इस बार भक्तों में बडा संशय बना हुआ है। कुछ पंड़ितों का कहना है कि ये पर्व 14 अगस्त को मनाया जाए वहीं कुछ विद्वान इसे 15 को अगस्त का मान रहे हैं। आइए आपको बताते हैं श्री श्रीकृष्ण जन्माष्टमी किस दिन..

ज्ञान लेने में नहीं बल्कि देने में महानता है : आचार्य विनम्र सागर

ग्वालियर। आज हर आदमी की ज्ञान पाने की ख्वाहिश तो है, लेकिन ज्ञान को यथायोग्य आदर देने की नहीं है। यह बहुत ही सोचनीय विषय है कि किसी से ज्ञान पाना कर्ज है, जबकि ज्ञान देना दिव्यता है। कर्ज जब लिया जाता है तो उससे पूर्व जान, पहचान, विश्वास और श्रद्धा को ज..

सावन के अंतिम सोमवार को शिवालयों में गूंजा हर-हर महादेव

अम्बिकापुर। सावन के अंतिम सोमवार को शिव भक्तों ने नगर के अलग-अलग मंदिरों में पहुंचकर अपनी इच्छाओं की पूर्ति की कामना के साथ पूजा-अर्चना की। ऊं नम : शिवाय, हर-हर महादेव की गूंज सुबह से शिवालयों में गूंजती रही।सावन मास के अंतिम सोमवार को महिला-पुरूषों, यु..

चंद्रग्रहण में राखी बांधने का जानिए सही समय

स्वदेश वेब डेस्क। रक्षा बंधन का त्यौहार भाई-बहनों के स्नेह और प्रेम भाव का त्यौहार है। यह इस बार 7 अगस्त सोमवार को है। बता दें कि इस साल रक्षा बंधन के लिए शुभ मुहूर्त केवल दो घंटे का ही है। क्योंकि पूर्णिमा के दिन चंद्रग्रहण भी है।गौरतलब है कि इस दिन चंद्..

सोमवार को चंद्रदेव की पूजा आराधना करने से होंगे प्रसन्न

स्वदेश वेब डेस्क। जी हाँ, चंद्रदेव अनादि एवं अजेय हैं। चंद्र देव को भी प्रत्यक्ष भगवान माना जाता है। अमावस्या को छोड़कर चंद्रदेव अपनी सोलह कलाओं परिपूर्ण होकर साक्षात दर्शन देते हैं। सोमवार चंद्रदेव का दिन है। बता दें कि चंद्रमा से शुभ फल प्राप्त करने के ल..

मिट्टी से बनाई जा रही है गणेश जी की प्रतिमाऐं

जगदलपुर। स्थानीय स्तर पर आगामी गणेशोत्सव को देखते हुए मूर्तिकारों द्वारा भगवान गणेश की मूर्तियों का निर्माण किया जा रहा है। विशेष तथ्य यह है कि इन मूर्तिकारों व शिल्पकारों द्वारा इनके निर्माण में पर्यावरण का विशेष ख्याल रखा जा रहा है।उल्लेखनीय है कि पूजा-..

भगवान शिव के नीलकंठ अवतार की रोचक जानकारी...

स्वदेश वेब डेस्क। एक बार ऐसा हुआ कि जब दैत्यों ने देवताओं को हराकर स्वर्ग पर अपना अधिपत्य स्थापित कर लिया। देवता परेशान होकर भगवान विष्णु के पास गए। भगवान विष्णु ने कहा -ऐसा करो कि समुद्र को मथो। जब उसे मथोगे तो उसमें से अमृत निकलेगा और वो अमृत तुम पी ल..

संतोषी माँ को प्रशन्न करने के लिए करें इन मंत्रों का जाप

स्वदेश वेब डेस्क।  शुक्रवार को माता संतोषी का दिन माना जाता है। हिन्दू शास्त्रों के अनुसार संतोषी माता को भगवान गणेश की पुत्री माना गया है। साथ ही  माता संतोषी की पूजा के लिए शुक्रवार का व्रत करने का विधान है। इससे माता संतोषी प्रसन्न होती हैं औ..

बम भोले की कृपा चाहिए तो ना करें भूलकर ये काम

स्वदेश वेब डेस्क। जी हाँ, आपको बता दें कि सनातन धर्म में श्रावण मास का विशेष स्थान हैं। धार्मिक मान्यता के अनुसार तो यह भगवान शिव का महीना माना जाता है साथ बारिश का समय होने की वजह से भी इस माह का विशेष महत्व हैं। मान्यता है कि भगवान शिव की अराधना करने पर..

श्रावण मास - इस माह में दान करने से मिलता है आत्म सुख

 सोमवार से श्रावण की शुरुआत हो चुकी है। उज्जैन के विश्व प्रसिद्ध महाकाल मंदिर में आज श्रावण के पहले सोमवार को ही श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ पड़ी और उन्होंने भगवान महाकाल के पूजन-अर्चन कर दर्शनलाभ लिया। मंदिर में अलसुबह से ही लोगों का आने का सिलसिल..

घर में इन फूलों को सजाने से आपसी संबंधों में बढ़ता हैं प्यार

घर में ताजा फूल ही रखने चाहिए। क्योंकि ताज़ा फूलों से सजा घर सभी को प्यारा लगता है। फेंगशुई में भी फूलों को घर में रखना बहुत अच्छा माना जाता है। कहा जाता है कि ताज़ा फूल सुख व समृद्धि भी बढ़ाते है लेकिन फेंगशुई की मानें तो घर में सिल्क के फूल भी घर में सजा स..

वर्षों बाद बना संयोग, सावन के होंगे पांच सोमवार

इस वर्ष सालों बाद ऐसा संयोग बन रहा है जब सावन माह सोमवार से शुरू होकर सोमवार को ही खत्म होगा। सावन के पहले दिन ही शहर के सभी शिव मंदिरों में भगवान शिव का जलाभिषेक करने भक्तों की भारी भीड़ दिखाई देगी। वहीं आखिरी सोमवार को रक्षाबंधन का त्योहार मनाया जाएगा। ..

....और सोचेंगे कि काश मुझे भी तैरना आता होता!

  यदि किसी दिन शाम के समय (Evening Time) आप समुंद्र के किनारे अपने किसी दोस्त (Friend) के साथ घूमने जाते हैं और तभी कुछ देर बाद आपका दोस्त यह कहे कि “चलो तैराकी (Swimming) करने चलते हैं” और यदि आपको तैरना नहीं आता हो तो क्या आप अपने दो..

आप चाहते हैं कि दिन अच्छा गुजरे तो फिर आपको यह करना चाहिए

हम सभी के मन में प्रतिदिन ये खयाल आता ही रहता है कि आज दिन ही खराब है। इसके पीछे कि वजह भी बेहद साफ होती हैं- जिस दिन आपके साथ कुछ बुरा होने लगता है और लगातार बुरा ही होते रहता है, उस दिन को आप बुरा दिन मान लेते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आप थोड़ी सी..

आज शनि अमावस्या पर बन रहा है ये महा संयोग

24 जून यानी आज दस साल बाद शनिचरी अमावस्या का संयोग बन रहा है। इस संयोग ने अमावस्या के महत्व और बढ़ गया है। यह संयोग वर्ष की दृष्टि से अनुकूल रहेगा। इस अमावस्या में  आर्द्रा नक्षत्र, वृद्घि योग, नाग करण एक साथ पड़ रहा है। वर्ष 2007 में अषाढ़ मास म..

पूजा घर में न करें ये गलतियां

कई भारतीय पूजा के स्थान पर ऐसी बहुत सी गलतियां करते हैं जिससे घर में नकारात्मकता आती हैं। मृत दादा दादी या माता-पिता की फाटोग्राफ ना लगाएं पूजा घर में मृत दादा दादी या माता-पिता की फाटोग्राफ रखने की। बहुत से घरों में यह चलन है कि वे अपने स्वर्गवासी रिश्ते..

इस राशि के जातक न धारण करें पन्ना

रत्न धारण करने के पहले किसी योग्य ज्योतिष या फिर रत्न विशेषज्ञ से सलाह अवश्य ही लेना चाहिए। होता यह है कि किसी के कहने पर भी रत्न धारण कर लिया..

बच्चो को नजर से बचाएंगे ये उपायें

आपके बच्चे को बार-बार नजर लगती है तो मंगलवार को एक चांदी के ताबीज में हनुमानजी के चोले का सिंदूर भर लें और इसे काले धागे में डालकर अपने बच्चे ..

क्या है शंखनाद का रहस्य

जिस घर में शंख होता है उस घर से दुख, दरिद्रता और बीमारियां कोसों दूर रहती है। अगर घर में रोज शंखनाद किया जाए तो कई प्रकार की समस्याओं से छुटकारा ..

फेंगसुई में लोटस क्रिस्टल सकारात्मकता का प्रतीक

वास्तुशास्त्र में भी लोटस क्रिस्टल बहुत शक्तिशाली माना जाता है। ये किसी भी स्थान की ऊर्जा को 100 गुणा से भी ज्यादा बढ़ा देता है। एक लोटस क्रिस्टल को अपने घर में स्थापित करने से सकारात्मक ऊर्जा अपने आप बढ़ने लगती है। वहीं वास्तुशास्त्र में इसे किस स्थान पर र..

ज्योतिषशास्त्र में हस्ताक्षर का महत्व

ज्योतिषशास्त्र में हस्ताक्षर का बहुत महत्व होता है। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार जिस व्यक्ति का जैसा स्वभाव होता है, उसके सिग्नेचर भी वैसे ही होते हैं। इस ..

जानें क्यों....घर में पक्षियों को पिंजरे में बंद करके नहीं रखना चाहिए

बहुत सारे लोगो को पक्षी पालना बहुत पसंद होता है.इसलिए वे अक्सर अपने घर में चिड़िया,कबूतर या तोते को पाल लेते है.पर हमारे वास्तुशास्त्र में पक्षियों को घर में पालने से मना किया गया है..

अब हथेली बताएगी आपका रहस्य

आपके हथेली की रेखाएं आपकी बीमारी के बारे में भी बताती हैं। हथेली की रेखाओं से मालूम किया जा सकता है कि व्यक्ति कब बीमार होने वाला है या उसको कौनसा रोग होने वाला है। यहां हम आपको बता रहे हैं कि कैसे हथेली की रेखाओं से भविष्य में होने वाले रोगों के बारे में..

दिशाओ मे बदलाव लाकर करे जीवन मे सुधार

वास्तु टिप्स के अनुसार दिशाओ का हमारे जीवन मे बहुत महत्व है। हमारे जीवन मे अनेक कष्ट एवं कठिनाइयाँ केवल दिशाओं के गलत उपयोग के कारण ही आती है। आप अपनी दिशाएं बदल के अपने जीवन मे सुख शांति ला सकते हैं।किसी रोगी व्यक्ति को अगर पूर्व दिशा की ओर मुख करके भोजन..

नींबू से होगा वास्तु दोष दूर

धार्मिक कार्यों के रूप में प्रायः नींबू का प्रयोग नजर दोष तथा किसी के द्वारा किए गए टोने-टोटके से बचाने के लिए किया जाता है। नींबू का विभिन्न प्रकार से प्रयोग ..

राहु के अशुभ प्रभाव से बचने के लिए पहने गोमेद रत्न

अगर आप पर राहु के अशुभ प्रभाव है तो आपको ज्योतिषाचार्य की सलाह से गोमेद रत्न धारण करने की जरूरत है। क्योंकि गोमेद रत्न आपको राहु के अशुभ प्रभावो से बचता रहेगा। अगर किसी की कुंडली में  राहु का दोष है तो यह चमत्कारी गोमेद रत्न राहु के शुभ प्रभाव को बढ़ा..