हमारे बारें मे

स्रोत:       तारीख: 10-Sep-2016

हमारे बारें मे 

मूल्य आधारित पत्रकारिता एवं राष्ट्रवाद का संवाहक दैनिक स्वदेश उत्तर भारत का प्रमुख हिंदी दैनिक है। यह अपने जीवन के यश्स्वी 68 वर्ष पूर्ण कर चुका है । ऐसे समय मे जब तमाम वैचारिक पत्र-पत्रिकाएं व्यवसायिकता की अंधी दौड़ में बेदम हो चुकी है, स्वदेश ने बिना रुके अपने अपने विश्वसनीय पाठको के संबल के चलते वैचारिक अधिष्ठान को जीवंतता प्रदान करते हुए अपनी गौरवशाली यात्रा जारी रखी हैं। लखनऊ से स्वदेश की यात्रा प्रारंभ होती है, प्रेरणा बने राष्ट्रीय संत पंडित दीनदयाल उपाध्याय नाना जी देशमुख, भाऊराव जी देवरस एवं रज्जु भैया जैसी विभूतियों ने स्वदेश को वैचारिक अधिष्ठान देकर पाला-पोषा।  उत्तरप्रदेश से प्रारंभ होने वाली यह वैचारिक यात्रा महात्मा गाँधी की दुर्भाग्यपूर्ण हत्या के बाद स्थगित करनी पड़ी। वर्तमान में आपका लोकप्रिय दैनिक स्वदेश ग्वालियर, भोपाल, गुना, झाँसी, आगरा से एक साथ प्रकाशित हो रहा है। स्वदेश का सर्वप्रथम प्रकाशन लखनऊ में हुआ जिसका संपादन पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी ने किया था। देश के मूर्धन्य पत्रकार स्व. श्री माणिकचन्द वाजपेयी भी स्वदेश के प्रधान संपादक रहे हैं। वर्तमान में स्वदेश ग्वालियर समूह के समूह संपादक श्री अतुल तारे एवं स्थानीय संपादक श्री सुबोध अग्निहोत्री है।

 

 

 

**