विवाहिता को अगवा कर सामूहिक दुष्कर्म के प्रयास में तीन गिरफ्तार

स्रोत: न्यूज़ नेटवर्क      तारीख: 17-May-2017

जयपुर। राजधानी के सांगानेर क्षेत्र में विवाहिता के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म के प्रयास के मामले में पुलिस ने बुधवार को तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।
पुलिस उपायुक्त (पूर्व) कुंवर राष्ट्रदीप ने बताया कि मंगलवार सुबह पारदया हॉस्पिटल के सामने घायल अवस्था मे एक महिला पड़ी हुई है। महिला को जयपुरिया अस्पताल ले जाकर उसका इलाज करवाया गया। इसी दौरान पूछताछ मे महिला ने अपना नाम पता बताया जिसके आधार पर महिला के पति को बुलाया गया। महिला के पति ने पुलिस थाना पर आकर एक रिपोर्ट दर्ज कराई। उसने बताया कि मेरी पत्नी का चार-पांच महीने से मानसिक रूप से अपसेट है जिसकी दिन में मेरा बच्चा निगरानी रखता है तथा रात को मैं निगरानी रखता हूं, यह घर से कभी भी निकल जाती हैं। सोमवार की रात को भी वह बिना बताए कहीं निकल गई। मैने काफी जगह तलाश किया लेकिन नहीं मिली।

बुधवार सुबह पता चला की एक औरत को चोरड़िया पैट्रोल पम्प के पास से 108 एम्बुलेंस से जयपुरिया अस्पताल लेकर आए हैं। मैं अस्पताल पहुंचा तो पता लगा की मेरी पत्नी के नाम की महिला को पुलिस वाले एम्बुलेंस से एसएमएस अस्पताल लेकर गए हैं। वहां जाकर मैं अपनी पत्नी से मिला। उसने बताया कि रात में घर से घूमने निकली थी। संगम सिनेमा के पास तीन लड़के मोटर साइकिल पर मिले जो मुझे जबरदस्ती मोटर साइकिल पर बिठा कर किसी मन्दिर की तरफ सूनसान जगह पर ले गए और मेरे साथ छेड़छाड़ की, जोर जबरदस्ती करने कि कशिश भी की तथा मारपीट कर कपड़े फाड़ दिए तथा गलत काम करने का प्रयास किया। लेकिन वे सफल नहीं हुए तो बियर की बोतल से वार किए जिससे शरीर पर जगह जगह चोटे आई हैं। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की।

अनुसंधान में महिला से गहन अनुसंधान कर हुलिया के आधार पर घटना स्थल के आस पास कई लोगों से पूछताछ की गई। जिस स्थान पर महिला के साथ बदसलूकी व मारपीट की है तथा जहां पर पटक कर गए उस स्थान की तलाश की गई। घटना स्थल व पीड़िता के मकान व कस्बे से आने-जाने के मुख्यमार्ग व सूने स्थानों पर सीसीटीवी कैमरों को चेक किया गया। रात के समय ऑटो चलाने वाले व्यक्तियों एवं संदिग्ध करीबन 24 लोगों से पूछताछ की गई। हुलिया के आधार पर काफी तलाश की गई तथा महिला कि मानसिक स्थिति भी ठीक नहीं होने से भी कुछ समस्या आ रही थी।

आरोपियों ने बताया कि हम तीनों मोटर साइकिल पर रेल्वे स्टेशन सांगानेर की तरफ से आ रहे थे। शराब के नशे में रास्ते मे एक महिला दिख गई जिसे पहले तो हमने साथ चलने के लिए कहा फिर पैसे भी ऑफर किए लेकिन उसने मना कर दिया। तब हमने उसे उसके घर छोड़ने के बहाने से मोटर साइकिल पर बिठा लिया और उसको लेकर रीको कांटे की तरफ खाली भूखण्डों मे चले गए जहां पर उसके साथ बलात्कार करने का प्रयास किया लेकिन वह चिल्लाने लगी तो मारपीट कर उसके कपड़े फाड़ दिए तथा रोड के किनारे पटक कर वहां से भाग गए।